चेक बाउंस होने पर अदालत के बाहर समझौता

आखिरी अपडेट Aug 11, 2022

चेक बाउंस होने के मामले में आपराधिक शिकायत दर्ज किए जाने पर अदालत के बाहर समझौता हो सकता है। कानून एक कानूनी अवधारणा के माध्यम से निपटान की अनुमति देता है जिसे अपराधों का समझौता करने के लिए कहा जाता है।

इस प्रक्रिया में, चेक का प्राप्तकर्ता/धारक अदालत में मामला दर्ज नहीं करने के लिए सहमत होता है या कुछ मुआवजे (आमतौर पर आर्थिक) के बदले में अपने अदालती मामले को वापस लेने के लिए सहमत होता है।

चाहे अदालती कार्यवाही किसी भी स्तर पर हो, यह समझौता किसी भी समय किया जा सकता है।

कानून, अदालतों पर मुकदमेबाजी और उससे संबंधित बोझ को कम करने के लिए इस तरह के समझौते की अनुमति देता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

क्या आपके पास कोई कानूनी सवाल है जो आप हमारे वकीलों और वालंटियर छात्रों से पूछना चाहते हैं?

Related Resources

कर में कटौती

कटौती एक व्यय है जिसे किसी व्यक्ति की सकल कुल आय से घटाया जाता है ताकि उस धनराशि को कम किया जा सके जिस पर कर लगाया जा रहा है। यह कटौती आय की राशि से कम, अधिक या उसके बराबर हो सकती है। यदि कटौती योग्य राशि आय की राशि से अधिक है तो […]

रैगिंग रोकने के लिए संस्थानों के कर्तव्य

सभी कॉलेजों / विश्वविद्यालयों को परिसर के भीतर और बाहर, दोनों जगहों पर रैगिंग खत्म करने के लिए सभी उपाय करने होंगे।
Crimes and Violence

कर लगाने योग्य आय की गणना

आपकी आय के आधार पर आयकर विभाग नीचे दी गई श्रेणियों के अनुसार कर लगाता है। इस तरह से की गणना की गई कुल आय को सकल कुल आय कहा जाता है।

चेक भुनाना

चेक को भुनाने के लिए इन चरणों का पालन करें।

नये पैन नंबर पाने के लिए प्रक्रिया

आप पैन नंबर के लिए ऑनलाइन या व्यक्तिगत रूप से आवेदन कर सकते हैं।पैन नंबर के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रियाप्रक्रिया इस प्रकार है |

पासपोर्ट को नया बनवाना, पुनः जारी (री-इशु) करवाना. या अपडेट करवाना

एक जैसी नहीं है। पासपोर्ट के संबंध में, री-इशु कराने का अर्थ है, पासपोर्ट का नवीनीकरण। ऐसा ऑनलाइन से, या व्यक्तिगत रूप से, किया जा सकता है।