चेक बाउंसिंग

आखिरी अपडेट Aug 11, 2022

एक तरीका है जिसमें एक चेक को ‘बाउंस’ या ‘अस्वीकृत’ कहा जाता है, जब इसे जमा किया जाता है या भुगतान के लिए प्रस्तुत किया जाता है, लेकिन चेक धारक द्वारा इसे भुनाया नहीं जा सकता है।

चेक बाउंस होने के कई कारण हो सकते हैं। हालांकि, ये सभी अपराध नहीं हैं। यदि चेक इन कारणों से बाउंस होता है तो यह अपराध है:

• चेक काटने वाले के खाते में अपर्याप्त धनराशि, या

• चेक जारी करने वाले के अनुरोध पर बैंक द्वारा चेक का भुगतान रोक दिया जाता है।

उदाहरण: ‘A’ 1,000 रुपये के लिए ‘B’ को चेक जारी करता है। जब B बैंक में चेक जमा करता है, तो बैंक उसे सूचित करता है कि ‘A’ के खाते में ‘B’ का भुगतान करने के लिए उसके खाते में 1,000 रुपये नहीं हैं। चेक बाउंस हो गया है। ‘A’ 1,000 रुपये के लिए ‘B’ को चेक जारी करता है। B द्वारा चेक जमा करने से पहले, ‘A’ अपने बैंक को ‘B’ की जानकारी और सहमति के बिना चेक का भुगतान रोकने के लिए निर्देश जारी करता है। जब ‘B’ चेक को भुनाने की कोशिश करता है, तो वह ऐसा नहीं कर सकता। चेक बाउंस हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

क्या आपके पास कोई कानूनी सवाल है जो आप हमारे वकीलों और वालंटियर छात्रों से पूछना चाहते हैं?

Related Resources

चेक भुनाना

चेक को भुनाने के लिए इन चरणों का पालन करें।

पृष्ठांकित चेक

पृष्ठांकित चेक का मतलब है कि अगर आपके पास ऑर्डर चेक है तो आप उसे किसी और को एंडोर्स कर सकते हैं।

ऑर्डर चेक

ऑर्डर चेक एक ऐसा चेक होता है जिसमें केवल वह व्यक्ति या पार्टी जिसके नाम से चेक निकाला गया है, नकद निकाल सकता है।

चेक ट्रंकेशन सिस्टम

चेक ट्रंकेशन चेक क्लियरिंग सिस्टम का एक रूप है। यह एक भौतिक पेपर चेक को एक स्थानापन्न इलेक्ट्रॉनिक रूप में डिजिटाइज़ करता है।

चेक बाउंस होने के बाद नोटिस

चेक जारी करने वाले को दंडित करना। धन की वसूली करना।

क्रॉस चेक (रेखित चेक)

चेक को क्रॉस करने का मतलब है कि इसे किसी और को ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है।