चेक बाउंस होने पर गिरफ्तारी

आखिरी अपडेट Aug 11, 2022

चेक बाउंस होना एक अपराध है और आपको पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जा सकता है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि पुलिस आपको वारंट के बिना गिरफ्तार नहीं कर सकती है।

चेक बाउंस होने के अधिकांश मामलों में, यदि आप समन के बाद न्यायालय के समक्ष उपस्थित नहीं होते हैं तो आपकी गिरफ्तारी का वारंट जारी किया जाता है। चेक बाउंस होने का अपराध जमानती है।

कई चेक बाउंस होने के मामलों में, आप पर भारतीय दंड संहिता के तहत धोखाधड़ी के अपराध का आरोप लगाया जा सकता है। फिर अपराध गैर जमानती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

क्या आपके पास कोई कानूनी सवाल है जो आप हमारे वकीलों और वालंटियर छात्रों से पूछना चाहते हैं?

Related Resources

चेक भुनाना

चेक को भुनाने के लिए इन चरणों का पालन करें।

कर लगाने योग्य आय की गणना

आपकी आय के आधार पर आयकर विभाग नीचे दी गई श्रेणियों के अनुसार कर लगाता है। इस तरह से की गणना की गई कुल आय को सकल कुल आय कहा जाता है।

शिकायत/ सहायता और समर्थन

नीचे पोर्टल और हेल्पलाइन नंबर दिए गए हैं, जिनका उपयोग आप शिकायत दर्ज करने, उनका निदान करने, पूछताछ करने, और समर्थन मांगने के लिए कर सकते हैं।

ध्वनि प्रदूषण के स्रोत

ध्वनि प्रदूषण काफी हद तक औद्योगीकरण, शहरीकरण और आधुनिक सभ्यता की उपज है। ध्वनि प्रदूषण के दो स्रोत हैं-पहला: औद्योगिक और दूसरा: गैर-औद्योगिक। औद्योगिक स्रोत में विभिन्न उद्योगों से होने वाला शोर और बहुत तेज़ गति एवं तेज़ आवाज़ से काम करने वाली बड़ी मशीनें शामिल हैं।  गैर-औद्योगिक स्रोत में परिवहन, विभिन्न प्रकार के वाहन, […]

पृष्ठांकित चेक

पृष्ठांकित चेक का मतलब है कि अगर आपके पास ऑर्डर चेक है तो आप उसे किसी और को एंडोर्स कर सकते हैं।

चेक बाउंसिंग

एक तरीका है जिसमें एक चेक को 'बाउंस' या 'अस्वीकृत' कहा जाता है, जब इसे जमा किया जाता है या भुगतान के लिए प्रस्तुत किया जाता है, लेकिन चेक धारक द्वारा इसे भुनाया नहीं जा सकता है।